ताजमहल पर संगीत सोम और ओवैसी आमने-सामने, बीच में फंसे पीएम मोदी

उत्तर प्रदेश के जिले मेरठ की सरधना से भाजपा विधायक संगीत सोम और हैदराबाद सांसद असदुद्दीन ओवैसी ताजमहल पर आमने-सामने आ गए हैं. संगीत सोम ने ताज महल को लेकर विवादित बयान दिया है. दुनिया के सात अजूबों में शामिल ताज को उन्होंने भारतीय संस्कृति पर धब्बा बताया है. रविवार को उन्होंने कहा है कि ताज महल बनाने वाले ने उत्तर प्रदेश और हिंदुस्तान से सभी हिंदुओं का सर्वनाश किया था. ऐस लोगों का नाम अगर इतिहास में होगा, तो वह बदला जाएगा. इस बयान पर पलटवार करते हुए ओवैसी ने कहा कि लाल किले को भी गद्दारों ने बनाया था, क्या पीएम मोदी लालकिले से तिरंगा फहराना बंद कर देंगे.

ताजमहल पर संगीत सोम और ओवैसी आमने-सामने, बीच में फंसे पीएम मोदी

ऐसे बिगड़ी बात

दरअसल, राज्य सरकार के पर्यटन विभाग ने बीते दिनों ऐतिहासिक धरोहरों और स्थलों की एक सूची जारी की थी, जिसमें आगरा के ताजमहल का नाम नहीं था. बाद में सरकार की उस पर सफाई आई थी कि वह गलती से उस सूची में शामिल किए जाने से रह गया था. राजनीतिक गलियारों से लेकर सोशल मीडिया पर योगी सरकार की इस बाबत खूब आलोचना हुई थी.

सोम ने इतिहास पर उठाये सवाल

इसी बाबत सोम मेरठ के सिसौली गांव में कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा, उत्तर प्रदेश में एक ऐसा दाग, जिसे निशानी नहीं कहना चाहिए. बहुत लोगों को बड़ा दर्द हुआ कि आगरा का ताज महल ऐतिहासिक स्थलों में से निकाल दिया गया. कैसा इतिहास, कहां का इतिहास, कौन सा इतिहास.

हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!

क्या वह इतिहास कि ताजमहल बनाने वाले ने अपने बाप को कैद किया था. क्या वह इतिहास कि ताज महल बनाने वाले ने हिंदुओं का नाश किया था. ऐसे लोगों का नाम अगर आज भी इतिहास में होगा, तो यह दुर्भाग्य की बात है और मैं गारंटी के साथ कह सकता हूं कि इतिहास बदला जाएगा.

ओवैसी की चुनौती, बैन कर दीजिये टूरिस्ट एंट्री

असद्दुदीन ओवैसी ने पलटवार करते हुए कहा कि संगीत सोम को ताजमहल को ऐतिहासिक धरोहरों से हटाने को लेकर यूनेस्को जाना चाहिए. ओवैसी ने कहा कि लाल किले को भी गद्दारों ने बनाया था, क्या पीएम मोदी लालकिले से तिरंगा फहराना बंद कर देंगे. क्या मोदी-योगी देशी-विदेशी सैलानियों को ताजमहल जाने से बैन करेंगे. ओवैसी ने कहा कि हैदराबाद हाउस भी गद्दारों के द्वारा ही बनाया गया था, क्या पीएम मोदी वहां पर विदेशी मेहमानों को रिसीव करना बंद कर देंगे. योगी सरकार पर हमला करते हुए ओवैसी ने कहा कि सरकार जनता के टैक्स का पैसों का उपयोग कर भगवान राम की मूर्ति नहीं बना सकती.

सपा-कांग्रेस ने भाजपा को घेरा

इस मामले में अब सपा भी कूद पड़ी है. पार्टी प्रवक्ता जूही सिंह ने कहा कि संगीत सोम को इतिहास की किताब देनी चाहिए. शाहजहां कैसा शासक था. वह बहस ताजमहल की खूबसूरती को कैसे तय कर सकती है. जूही सिंह ने पूछा कि क्या ये ताजमहल के साथ लालकिले, जामा मस्जिद को भी तोड़ेंगे. बीजेपी के नेताओं को अपना सबका साथ, सबका विकास का नारा फिर से याद करना चाहिए.

राहुल ने बताया मौसम का हाल, आज होगी जुमलों की बारिश

वहीँ. कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता वीरेंद्र मदान ने कहा कि संगीत सोम की इस तरह की भाषा सुनकर आश्चर्य नहीं हुआ क्योंकि वह आरएसएस के हैं. आरएसएस की ही भाषा बोल रहे हैं. उन्होंने कहा कि एक तरफ ये सरकार सबका साथ, सबका विकास की बात करती है. वहीं दूसरी तरफ सिर्फ और सिर्फ 2019 के चुनावों को मद्देनजर रखकर उत्तर प्रदेश और देश की आवाम को बांटने का संदेश देती है.

यह भी देखें

अगर आपको हमारा ये लेख पसंद आया हो तो कृपया लाइक व् शेयर करना न भूलें – आपका सहयोग ही हमारी ताकत और प्रेरणा है !

लेख पसंद आया हो तो अपनी राय/कमेन्ट जरुर लिखें


Share
Tweet
+1
Pin