सिम से आधार लिंक के Message से हो सकता है धोखा, एेसे रहे सावधान

टेलिकॉम कंपनियां मोबाइल यूजर्स पर आधार कार्ड लिंक कराने के लिए लगातार दबाव बना रहीं हैं। सरकार ने मोबाइल को आधार से लिंक कराने के लिए फरवरी 2018 तक की डेडलाइन दी है। कंपनियां आधार लिंक न कराने पर कनेक्शन तक काटने की धमकी दे रही हैं।

एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया अपने-अपने कस्टमर को पिछले एक महीने से मैसेज भेजकर सिम को जल्द से जल्द वेरिफाई करने के लिए कह रहे हैं।कंपनियों के मैसेज में कहा गया है कि अगर कस्टमर ने जल्द से जल्द आधार कार्ड से मोबाइल को लिंक नहीं कराते तो उनके नंबर को तुरंत बंद कर दिया जाएगा। कंपनियां इसके लिए टेलिकॉम मंत्रालय के आदेश का हवाला दे रही है।

लेकिन इस आदेश की आड़ में कंपनियां धमकी देने का काम कर रही है। कंपनियों का कहना है कि वो ऐसे मैसेज इसलिए भेज रही हैं, ताकि फरवरी में डेडलाइन के पास आने पर भीड़ को कम किया जा सके।
ऐसे किया जा रहा है फ्रॉड


कंपनियों के रिटेल स्टोर और डायरेक्ट सेलिंग एजेंट सिम को आधार से लिंक करने के लिए बायोमेट्रिक डाटा हासिल करते हैं, लेकिन बाद में मशीन के काम न करने का बहाना बनाकर के कस्टमर को बाद में आने के लिए कह देते हैं।

उसके बाद उनके सिस्टम में आए आधार डाटा को सेव कर लेते हैं, जिसके बाद वो उसका गलत उपयोग करते हैं। हाल में आधार जारी करने वाली संस्था यूआईडीएआई ने एक मोबाइल कंपनी को आधार डाटा से धोखाधड़ी करने के आरोप में नोटिस भी भेजा था।

अगर आपको हमारा ये लेख पसंद आया हो तो कृपया लाइक व् शेयर करना न भूलें – आपका सहयोग ही हमारी ताकत और प्रेरणा है !

लेख पसंद आया हो तो अपनी राय/कमेन्ट जरुर लिखें


Share
Tweet
+1
Pin